Archive for the ‘કોઈ નઝમ ૧૯’ Tag

કોઈ નઝમ ૧૯

रुलाने को अपनी कहानी काफी है।
इश्क मे चार पल की जिंदगानी बाकी है।
डुबने के लिए समंदर की क्या ज़रूरत,
अपनी पलको से टपका वोह पानी ही काफी है